भारत के प्रमुख जलप्रपात

0
89
भारत के प्रमुख जलप्रपात
भारत के प्रमुख जलप्रपात

भारत के प्रमुख जलप्रपात:- आज इस आर्टिकल में SSCGK आपसे भारत के प्रमुख जलप्रपात के बारे में विस्तार से चर्चा करेंगे इससे पहले आर्टिकल में आप HSSC Police Sub Inspector Female Exam 2021 के बारे में विचार से पढ़ चुके हैं।

भारत के प्रमुख जलप्रपात:-

जलप्रपात क्या होता है?

जलप्रपात शब्द का अर्थ है- जल का नीचे गिरना।

जब भी जल किसी ऊंचाई से नीचे की ओर धारा के रूप में गिरता है तो उसे जलप्रपात कहते हैं।

किसी ऊंचे स्थान जैसे पहाड़ से गिरते हुए जल की विशाल जलधारा को जलप्रपात कहते हैं। पहाड़ों से बहती हुई नदियों को जब बहने के लिए ढाल नहीं मिलती ,तब उनका पानी धारा के रूप में नीचे गिरने लगता है और यही बहती हुई जलधारा प्रपात कहलाती है।

जलप्रपात दो प्रकार का हो सकता है-

1.लघु जलप्रपात

2.महा जलप्रपात

  1. लघु जलप्रपात-जब नदी का पानी कम ऊंचाई से संकरे रास्ते से नीचे की ओर धारा के रूप में गिरता है,तो वह लघु जलप्रपात कहलाता है।
  2. महा जलप्रपात-जब पानी एक बड़ी मात्रा एक संकरे उद्गम से नीचे की ओर तीव्रता के साथ गिरती है, तो उसे महा जलप्रपात कहते हैं।

हिमाद्रिपात ऐसा झरना है, जिसके जल में बर्फ के छोटे-छोटे टुकड़े समाहित होते हैं और अवरोही पानी चट्टानी आधार  को संपर्क करता है। जल चट्टानी आधार की सतह से संपर्क त्याग सीधा नीचे की ओर गिरता है।

BHARAT KE PRAMUKH JALPRAPAT:-

No.1. जोग जलप्रपात

No.2. दूधसागर जलप्रपात

No.3. शिवसमुद्रम जलप्रपात

No.4. कुंचिकल जलप्रपात

No.5. वज्राई जलप्रपात

No.6. अंबोली घाट जलप्रपात

No.7. कपिलधारा जलप्रपात

No.8. धुआंधार जलप्रपात

No.9. चूलिया जलप्रपात

No.10. नोहकलिकाई जलप्रपात

No.11. रजरप्पा जलप्रपात

No.12. हुंडरू जलप्रपात

No.13. दूदूमा जलप्रपात

No.14. बहेरीपानी जलप्रपात

No.15. पाईकारा जलप्रपात

No.16. होगेनक्कल जलप्रपात

No.17. चित्रकूट जलप्रपात

No.18. मीन मुट्टी जलप्रपात

No.19. रुद्रनाग जलप्रपात

No.20. गोकाक जलप्रपात

No.21. मेकेदातू जलप्रपात

No.22. पालारुवी जलप्रपात

No.23.लांग्शियांग जलप्रपात

No.23.थलियार जलप्रपात-

भारत के प्रमुख जलप्रपात:-

No.1. जोग जलप्रपात-जोग जलप्रपात कर्नाटक राज्य में शरावती नदी पर स्थित है। इसका दूसरा नाम गोरसोप्पा जलप्रपात है। जोग गरसोप्पा जलप्रपात को महात्मा गांधी जलप्रपात भी है| यह भारत का सबसे ऊंचा जलप्रपात है| इसकी ऊंचाई लगभग 255 मीटर है।

No.2. दूधसागर जलप्रपात-दूधसागर जलप्रपात कर्नाटक राज्य में कर्नाटक वह गोवा की सीमा पर मांडवी नदी पर स्थित है। यह जलप्रपात फोटोग्राफी के शौकीन लोगों के लिए बहुत ही सुंदर स्थान है। यह चारों तरफ हरियाली ही हरियाली छाई हुई है। इस जलप्रपात की ऊंचाई 310 मीटर है।

No.3. शिवसमुद्रम जलप्रपात-शिवसमुद्रम जलप्रपात कर्नाटक राज्य में कावेरी नदी पर स्थित है यह भारत का दूसरा सबसे ऊंचा जलप्रपात है| यह जलप्रपात फोटोग्राफी के शौकीन लोगों के लिए बहुत ही सुंदर स्थान है। यह चारों तरफ हरियाली ही हरियाली छाई हुई है। यहां पर अनेक प्रकार की वनस्पति एवं जंगलीजीव जंतु पाए जाते हैं। इस जलप्रपात की ऊंचाई 98 मीटर है।

No.4. कुंचिकल जलप्रपात-यह जलप्रपात कर्नाटक राज्य में वाराही नदी पर स्थित है। इसकी ऊंचाई 455 मीटर है ।यह भारत के सबसे ऊंचे जलप्रपातों में से एक हैं। जलप्रपात का दूसरा नाम धबधबा जलप्रपात है।

भारत के प्रमुख जलप्रपात:-

No.5. वज्राई जलप्रपात-वज्राई जलप्रपात महाराष्ट्र राज्य में उरमोडी नदी पर स्थित है इस जलप्रपात की ऊंचाई लगभग 260 फुट है।

No.6. अंबोली घाट जलप्रपात-यह जलप्रपात है महाराष्ट्र राज्य में हिरण्यकेशी नदी पर स्थित है इसकी ऊंचाई 690 फुट है। यह भारत का सबसे ऊंचा जलप्रपात है।

No.7. कपिलधारा जलप्रपात-कपिलधारा जलप्रपात मध्य प्रदेश राज्य में अमरकंटक से 7 किलोमीटर की दूरी पर नर्मदा नदी पर स्थित है। इसकी ऊंचाई 33 मीटर है।

No.8. धुआंधार जलप्रपात-धुआंधार जलप्रपात मध्य प्रदेश राज्य में जबलपुर में नर्मदा नदी पर स्थित है।इस जलप्रपात की ऊंचाई ऊंचाई 15 मीटर है।

भारत के प्रमुख जलप्रपात:-

No.9. चुलिया जलप्रपात-चुलिया जलप्रपात राजस्थान राज्य के कोटा में चंबल नदी पर स्थित है इसकी ऊंचाई लगभग 18 मीटर है।

No.10. नोहकलिकाई जलप्रपात-नोहकलिकाई जलप्रपात मेघालय राज्य में वेस्ट खासी हिल्स पर स्थित है। यह जलप्रपात वर्षा ऋतु में बारिश के कारण बनता है। इसकी ऊंचाई 340 मीटर है।

No.11. रजरप्पा जलप्रपात-यह जलप्रपात झारखंड राज्य में रामगढ़ में दामोदर एवं भीरा नदी के कारण बनता है।

No.12. हुंडरू जलप्रपात -हुंडरू जलप्रपात झारखंड राज्य में स्थित है। यह जलप्रपात स्वर्णरेखा नदी पर बनता है। इसकी ऊंचाई लगभग 74 मीटर है।

भारत के प्रमुख जलप्रपात:-

No.13. डुडुमा जलप्रपात– डुडुमा जलप्रपात उड़ीसा राज्य में मस्कुंड नदी पर स्थित है।यह जलप्रपात एक दर्शनीय स्थलों में से एक है |

No.14. बहेरीपानी जलप्रपात- यह जलप्रपात उड़ीसा राज्य में बुधबलंग नदी के मार्ग में बनता है। जलप्रपात की ऊंचाई लगभग 399 फुट है।

No.15. पाईकारा जलप्रपात- पाईकारा जलप्रपात पाई कारण नदी पर स्थित है। यह जलप्रपात ऊटी के पास स्थित है।

No.16. होगेनक्कल जलप्रपात– होगेनक्कल जलप्रपात तमिलनाडु राज्य में कावेरी नदी पर स्थित है इस जलप्रपात की ऊंचाई 20 मीटर है।

भारत के प्रमुख जलप्रपात:-

No.17. चित्रकूट जलप्रपात- यह जलप्रपात छत्तीसगढ़ राज्य ने इंद्रावती नदी पर स्थित है इस जलप्रपात का दूसरा नाम नियाग्रा जलप्रपात है इसकी ऊंचाई लगभग 300 मीटर है। हर वर्ष इसे देखने के लिए दुनियाभर के लाखों लोग आते हैं।

No.18. मीन मुट्टी जलप्रपात-यह है जलप्रपात केरल राज्य में स्थित है। इसकी जलधारा 300 मीटर की ऊंचाई से गिरती है। यहां चारों तरफ प्राकृतिक हरियाली छाई हुई है। वास्तव में यह प्राकृतिक स्थल प्रकृति प्रेमियों के लिए अनूठा उपहार है। प्रकृति के सानिध्य में प्रकृति प्रेमी अलौकिक आनंद का अनुभव करते हैं।

No.19. रुद्रनाग जलप्रपात– यह जलप्रपात हिमाचल प्रदेश में स्थित है। शांति के चाहने वाले वाले प्रकृति प्रेमियों के लिए यह एक उचित  स्थान है।यह जलप्रपात हिमाचल प्रदेश के अद्भुत ट्रेकिंग ट्रेल्स में से एक मार्ग पर स्थित है।

No.20. गोकाक जलप्रपात-यह जलप्रपात कर्नाटक राज्य में कृष्णा नदी की सहायक नदी घटप्रभा पर स्थित है।

भारत के प्रमुख जलप्रपात-

No.21. मेकेदातू जलप्रपात-मेकेदातू जलप्रपात कर्नाटक राज्य में कावेरी नदी पर स्थित है।

No.22. पालारुवी जलप्रपात-यह जलप्रपात केरल में स्थित है। इसकी ऊंचाई लगभग 90 मीटर है।

No.23.लांग्शियांग जलप्रपात- यह जलप्रपात मेघालय राज्य में वेस्ट खासी हिल्स पर स्थित है| इस जलप्रपात की ऊंचाई लगभग 337 मीटर है।

No.23.थलियार जलप्रपात- यह जलप्रपात तमिलनाडु राज्य में डिंडीगुल में स्थित है| इस जलप्रपात की ऊंचाई लगभग 297 मीटर है।